Jindagi Shayari, Rail Shayari, safar Shayari, railgadi Image, rail Photo

ज़िंदगी एक ऐसी रेल है 

जिस सफर का मंजील ।

हम नहीं कोई और तय करता है ।



कितने मर जाते है इस रेल के सफर मे ।

क्यी बार मंजील पर लाश को तराशा जाता है ।


कम से कम सफर ध्यान से तय करना ।

ताकी मंजील तक सही सलामत पहुच पाओ ।

हादसे बहोत होते है आजकल ।

रेल युही नहीं बदनाम  है ।

क्यी बार हादसे गूमनाम है ।


Jindagi Shayari, Rail Shayari, safar Shayari, railgadi Image, rail PhotoJindagi Shayari, Rail Shayari, safar Shayari, railgadi Image, rail Photo
 Kumar Railgadi Image, Rail Photo
 

By Shivam  Kumar Mishra

Comments

Popular posts from this blog

[भगवान प्रेम शायरी] शिव पार्वती प्रेम शायरी हिंदी में [God love shayari ]shiv parvati love shayari in hindi

गंजा, Ganja Shayari, Bald, Baal

नींद की शायरी हिंदी में [ Sleeping Shayari ] in Hindi

[ भोजन ] पर शायरी [ Shayari on food ]

शिव जी शायरी Shiv Ji Shayari

Shiv Parvati Prem Shayari

[गुड मॉर्निंग मोटिवेशनल शायरी] हिंदी में [ Good Morning Motivational Shayari ] in Hindi

[पापा बेटी] शायरी [ Papa Beti ] shayari

शिव-पार्वती, Mahadev, Gauri, Shankar Shakti

corona ki dua, covid, dua pick