mata, maa, maiya, durga photo

माँ मुझे वरदान दो ।

अपने हृद्य मे स्थान दो ।

तु मेरी माता मैं तेरा बालाक ।

मेरी गलती को तु माफ कर ।

मुझे लड़ने की शक्ति दे ।

मुझे मेरे पाप से तु मुक्त कर ।

मैं हु माँ अंजान मुझे दो ।

तुम ज्ञान का वरदान ।

मैं कोशिश करूँगा दुनिया को बदलने की ।

पर उसे पेहले मैं खुद को बदल पाओ ।

ऐसा तु वरदान दे ।

मेरे इस विंती पे तु ध्यान दे ।


mata, maa, maiya, durga photo
 Durga Photo
 

By Shivam Kumar Mishra

Comments

Popular posts from this blog

[भगवान प्रेम शायरी] शिव पार्वती प्रेम शायरी हिंदी में [God love shayari ]shiv parvati love shayari in hindi

गंजा, Ganja Shayari, Bald, Baal

नींद की शायरी हिंदी में [ Sleeping Shayari ] in Hindi

शिव जी शायरी Shiv Ji Shayari

[ भोजन ] पर शायरी [ Shayari on food ]

Shiv Parvati Prem Shayari

[गुड मॉर्निंग मोटिवेशनल शायरी] हिंदी में [ Good Morning Motivational Shayari ] in Hindi

[पापा बेटी] शायरी [ Papa Beti ] shayari

शिव-पार्वती, Mahadev, Gauri, Shankar Shakti

corona ki dua, covid, dua pick