jindagi, maut, jeevan, maran, mrityu

 

 

 

jindagi, maut, jeevan, maran, mrityu

 

करीब का रिश्ता हैं ज़िन्दगी और मौत मे ।

जब तक मौत आती नहीं तब तक ज़िन्दगी जाती नहीं ।


ज़िन्दगी और मौत के बीच मे इंसान पीस के रह जाता है ।

ज़िन्दगी भर वो अपनी मंजील से दूर भागता हैं ।

जब की मौत ही उसकी मंजील हैं ।


By Shivam Kumar Mishra

Post a Comment

0 Comments